Latest News

आखिर आज सुबह 10 बजे ऐसा क्‍या हुआ कि कभी न रुकने वाली मुंबई थम गई, जानिए

हाइलाइट्स:

  • मायानगरी मुंबई में सोमवार सुबह हुई थी बिजली गुल
  • टाटा पावर की ग्रिड फेल होने की वजह से हुई बिजली गुल
  • दुरुस्तीकरण का काम युद्धस्तर पर हुआ और बिजली बहाल हुई

मुंबई
सोमवार की सुबह अचानक मुंबई शहर में बत्ती गुल हो जाने से हड़कंप मच गया सब कुछ थम से गया लोग जहां तहां लोकल ट्रेन में फंस गए। तकरीबन दो घंटे की मेहनत के बाद मुंबई में बिजली की आपूर्ति शुरू हो पाई। आइए आपको बताते हैं ऐसा क्यों हुआ।

मुंबई में बिजली गुल होने को लेकर मोदी सरकार में ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने बताया, ‘इंट्रास्टेट ट्रांसमिशन सिस्टम की एक लाइन (पुणे-कालवा लाइन) शनिवार से ही ऑफ थी। इसके बाद एक और सर्किट (खाडगे-कालवा) में फॉल्ट हुआ जिसकी वजह से तीसरे सर्किट (पुणे-खारगौन) पर पूरा लोड पड़ गया जिसके बाद वो भी बंद हो गया। खारगौन और कालवा सबस्टेशन मुंबई को बिजली सप्लाई करते हैं। करीब 2000 मेगावाट का प्रभाव पड़ा। इसके बाद हमारे नैशनल सिस्टम के लोगों ने राज्य सरकार के लोगों के साथ मिलकर काम करना शुरू कर दिया। अबतक करीब 1000 मेगावाट रिस्टोर कर लिया गया है। धीरे-धीरे बाकी भी रिस्टोर कर लिया जाएगा। इसके अलावा महाराष्ट्र सरकार को जो भी सहायता की जरूरत होगी, वो हम देंगे।’

मुंबई शहर में बिजली की आपूर्ति चार कंपनियों के जरिये की जाती है। पहली बेस्ट और दूसरी निजी क्षेत्र की अडानी तीसरी टाटा पावर और चौथी महावितरण। बेस्ट मुंबई शहर में बिजली की आपूर्ति करता है तो वहीं बाकी कंपनियां मुंबई उपनगर में बिजली की आपूर्ति का जिम्मा उठाती हैं। मुंबई शहर को बिजली की आपूर्ति बेस्ट के जरिये की जाती है और मुंबई उपनगर को अडानी इलेक्ट्रिसिटी की तरफ से बिजली मुहैया करवाई जाती है।

बिजली जाने से बेबस मुंबई: लंच लेकर घर से चले थे, ट्रेन थमी तो वहीं खोल लिया टिफिन

वेस्टर्न ग्रिड में आई समस्या
देश में फिलहाल बिजली आपूर्ति के लिए ईस्ट ,वेस्ट, नार्थ, साउथ और सेंट्रल ग्रिड हैं। इन पांच ग्रिड में से मुंबई को बिजली की आपूर्ति करने वाली वेस्टर्न ग्रिड में सोमवार सुबह अचानक गड़बड़ी ही गई। इस वजह से मुंबई शहर को पावर सप्लाई करने वाली बेस्ट, टाटा, महावितरण और अडानी कंपनी शहर में बिजली आपूर्ति नहीं कर पाई।

कलवा की ग्रिड में हुई गड़बड़ी
मुंबई में पावर सप्लाई के लिए मुख्य रूप से कलवा स्थित पावर ग्रिड से बिजली की आपूर्ति की जाती है। जहां MSEDCL के 400 केवी कलवा पढगा GIS केंद्र में 2 सर्किट हैं जिनके जरिये बिजली की आपूर्ति की जाती है। सर्किट एक में दुरुस्तीकरण का काम किया जा रहा था। जिसके चलते पूरा लोड सर्किट नंबर दो पर दिया गया था। लेकिन सर्किट दो में अचानक तकनीकी खराबी आने से कई जगहों पर ट्रिपिंग की समस्या हुई और फिर मुंबई शहर में बत्ती गुल हो गई जिसे दो घंटे बाद बहाल किया जा सका है।

मुंबई में बत्ती गुल LIVE: 2 घंटे ठप रहने के बाद अब चल पड़ी लोकल, कुछ इलाकों में लौटी लाइट

लोकल सेवा ठप जहां तहां फंसे यात्री
मुंबई की लाइफ लाइन कही जाने वाली मुंबई की लोकल ट्रेनें भी बिजली गुल हो जाने की वजह से ठप हो गईं। बिजली की आपूर्ति न हो पाने की वजह से मुसाफिर जहां तहां ट्रेन में ही फंस गए। इतना ही नहीं जो लोग अपने घरों से दफ्तर जाने के लिए निकले थे वो भी रेलवे स्टेशनों पर फंस गए। मुंबई की सेंट्रल, वेस्टर्स और हार्बर लाइन की सेवाएं बाधित हुई है। जिसकी वजह से लोग अब रेलवे ट्रैक पर पैदल चल कर अपने गंतव्य पर जा रहे हैं।

हवाई सेवाएं चालू रहीं
पावर ग्रिड फेल होने की वजह से जहाँ ज्यादातर सेवाएं बाधित हुई वहीं हवाई सेवाओं पर कोई असर नहीं पड़ा। मुंबई से हवाई सेवाएं सामान्य रूप से चल रहा है।

कोविड अस्पतालों में पावर बैकअप
मुंबई के कोविड अस्पतालों में पावर बैकअप के जरिये बिजली की आपूर्ति की जा रही है ताकि कोरोना के मरीजों को दिक्कत न होने पाए। बीएमसी कमिश्नर इक़बाल सिंह चहल ने बताया कि तकरीबन 6 घंटे का बैकअप कोविड अस्पतालों के पास था।

Leave a Reply