fox nut benefits

मखाना (Makhana) भारत में काफी समय से इस्तेमाल किया जा रहा है। आम भाषा में मखाना को फूलमखाना (Phool Makhana) भी कहा जाता है और अंग्रेजी में इसे फॉक्स नट ( Fox Nut) या फिर लोटस सीड (Lotus Seed) के नाम से भी जाना जाता है.

तो चलिए आज इस लेख में हम लोग बात करते हैं कि मखाना को भारत में या फिर बाकी देशों में ज्यादा इस्तेमाल क्यों किया जाता है। अगर आप भी अपनी डाइट में मखाना का सेवन करते हैं तो इससे आपको कौन-कौन से फायदे देखने को मिलते हैं?

मखाना क्या है? What is Makhana

मखाना (Makhana) एक ड्राई फ्रूट है जो कि काफी सस्ता है और आसानी से अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इसे कमल के बीज (Lotus Seed) भी कहा जा सकता है क्योंकि यह कमल की बीजो से ही निकाला जाता है।phool makhana

इसकी सबसे बढ़िया बात यह है कि इसे बनाने और उगाने के लिए किसी भी तरह का केमिकल इत्यादि इ

स्तेमाल नही किया जाता। जब कीचड में कमल के फूल खिलते है तब इन्हें अलग किया जाता है और सुखा कर इन्हें रोस्ट करके बनाया जाता है। इसे बनने में 2 से 3 महीने तक लग जाते हैं।

मखाना (Makhana) भारत के अलावा चीन, रूस, जापान और कोरिया में भी उगाया जाता है। इसकी तासीर ठंडी होती है। इसे गर्मी और सर्दी दोनों मौसम में खा सकते हैं। मखाने को आमतौर पर स्नेक्स के तौर पर या खीर बनाकर खाया जाता है. मखाने को भारत में व्रत इत्यादि में बहुत इस्तेमाल किया जाता है। इसमें पौष्टिक तत्व भी भरपूर पाए जाते हैं और कैलरी ना के बराबर होती है। इसीलिए यह काफी फायदेमंद रहता है।

मखाने के फायदे – Benefits of Makhana in Hindi

makhana benefits in hindi

1. वजन कम करने के लिए मखाने के लाभ
वजन घटाने में मखाने के फायदे की बात करें, तो इसका उपयोग मोटापे की समस्या से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित हो सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित शोध के मुताबिक, कमल के बीज (मखाना) का एथेनॉल अर्क शरीर में फैट सेल्स को नियंत्रित करने में मददगार साबित हो सकता है। साथ ही यह फैट सेल्स के वजन को भी कम कर सकता है। इसलिए, ऐसा कहा जा सकता है कि इसका उपयोग वजन को कम करने में सहायक साबित हो सकता है

2. ब्लड प्रेशर में लाभदायक मखाना के गुण
बात करें, ब्लड प्रेशर में मखाने के फायदे की, तो माना जाता है कि मखाने के नियमित इस्तेमाल से इस गंभीर समस्या से काफी हद तक राहत पाई जा सकती है। कारण यह है कि इसमें पाया जाने वाला एल्कलॉइड हाइपरटेंशन यानी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को नियंत्रित करने का काम कर सकता है। इसलिए, बीपी की समस्या को नियंत्रित करने के लिए मखाने का सेवन किया जा सकता है

Also Read:

3. डायबिटीज में मखाने के फायदे
डायबिटीज की समस्या से राहत पाने के लिए भी मखाने का उपयोग किया जा सकता है। एक शोध के आधार पर इस बात की पुष्टि की गई है कि मखाने में पाए जाने वाले रेसिस्टेंट स्टार्च में हाइपोग्लाइसेमिक (ब्लड शुगर को कम करने वाला) प्रभाव पाया जाता है। यह प्रभाव मधुमेह की समस्या को नियंत्रित करने में सहायक साबित हो सकता है। इसके अलावा, यह इंसुलिन को भी नियंत्रित करने में मददगार हो सकता है.

4. हृदय के लिए मखाना का गुण
जैसा कि हमने ऊपर बताया कि मखाने का सेवन उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने का काम कर सकता है। इसके अलावा, यह मधुमेह और बढ़ते वजन को भी नियंत्रित कर सकता है। वहीं, उच्च रक्तचाप, मधुमेह और मोटापे को हृदय रोग का जोखिम कारक माना जाता है। इस आधार पर कहा जा सकता है कि मखाने का सेवन इन समस्याओं से बचाव कर इनसे होने वाले हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकता है। वहीं, एक अन्य शोध में जिक्र मिलता है कि कमल का बीज यानी मखाना कार्डियोवस्कुलर रोग (हृदय संबंधी) से बचाव का काम कर सकता है।

5. प्रोटीन का अच्छा स्रोत
मखाने में प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है। 100 ग्राम मखाने में लगभग 10.71 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है। इसलिए, ऐसा कहा जा सकता है कि मखाना खाने के फायदों में प्रोटीन की कमी को पूरा करना भी शामिल है। इसके नियमित उपयोग से शरीर में प्रोटीन की आवश्यक मात्रा की पूर्ति के साथ, उसकी कमी से होने वाली कई समस्याओं को भी दूर किया जा सकता है।

6. गर्भावस्था में मखाना खाने के फायदे
गर्भावस्था में मखाना का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। गर्भावस्था में महिलाओं के लिए मखाने का उपयोग कई प्रकार के पकवानों में मिलाकर किया जाता है। एक शोध के अनुसार, मखाने का उपयोग गर्भावस्था के दौरान और प्रसव के बाद की होने वाली कमजोरियों को दूर करने के लिए किया जा सकता है। इसके अलावा, इसमें कई प्रकार के पोषक तत्व जैसे की आयरन, प्रोटीन, मैग्नीशियम और पाेटेशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो गर्भावस्था के दौरान महिला को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं।

7. अनिद्रा में मखाने के लाभ
अनिद्रा यानी नींद न आने की समस्या में मखाना के लाभ देखे जा सकते हैं। इससे जुड़े एक शोध में जिक्र मिलता है कि अनिद्रा की समस्या के लिए मखाने का इस्तेमाल पारंपरिक रूप से किया जाता है। हालांकि, इस लाभ के पीछे मखाने का कौन-सा गुण जिम्मेदार होता है, फिलहाल इससे जुड़ा सटीक वैज्ञानिक शोध उपलब्ध नहीं है।

8. मसूड़ों के लिए मखाना खाने के फायदे
शोध में पाया गया है कि मखाने में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-माइक्रोबियल प्रभाव पाए जाते हैं. मखाने में पाए जाने वाले ये दोनों गुण मसूड़े संबंधित सूजन और बैक्टीरियल प्रभाव के कारण होने वाली दांतों की सड़न को रोकने में मददगार साबित हो सकते हैं। इस कारण माना जा सकता है कि मखाने में पाए जाने वाले ये गुण मसूड़ों की सूजन के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। हालांकि, इस विषय पर सीधे तौर पर कोई शोध उपलब्ध नहीं है।

9. किडनी के लिए बेनिफिट्स ऑफ मखाना
मखाने का उपयोग किडनी के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। एनसीबीआई के एक शोध में जिक्र मिलता है कि मखाने का सेवन अन्य समस्याओं जैसे दस्त के साथ किडनी से जुड़ी परेशानियों से बचाव का काम कर सकता है। फिलहाल, यहां यह स्पष्ट नहीं है कि इसका कौन-सा गुण किडनी की समस्या को ठीक करने में लाभदायक हो सकता है।

10. एंटी-एजिंग बेनिफिट्स ऑफ मखाना
त्वचा से संबंधित समस्याओं में मखाने के उपयोग पर किए गए एक शोध में पता चला है कि मखाना एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। यह गुण त्वचा पर आने वाले एजिंग के प्रभाव जैसे झुर्रियों को दूर करने में मददगार साबित हो सकता है।

Also read:

मखाना का उपयोग – How to Use Makhana in Hindi

मखाने खाने के लाभ के बाद इसके उपयोग की बात की जाए, तो इसे कई तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता है, जिन्हें हम कुछ बिंदुओं की सहायता से जानेंगे।

  • मखाने को फ्राई कर स्नैक्स के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • कई लोग मखाने की खीर बनाकर इसे खाने में इस्तेमाल करते हैं।
  • कुछ लोग ऐसे भी है, जो सब्जी बनाते वक्त इसे मटर और पनीर के साथ शामिल करते हैं।

समय – इसे नाश्ते के रूप में सुबह या शाम को खाने में इस्तेमाल किया जा सकता है।

मात्रा– मात्रा की बात की जाए, तो सामान्य तौर पर एक बार में 20 से 30 ग्राम मखाने का उपयोग किसी भी रूप में किया जा सकता है। फिलहाल, इस संबंध में कोई वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है।

मखाना का चयन और लम्बे समय तक सुरक्षित रखने का तरीका

मखाना का चयन करना और उसे लम्बे समय तक सुरक्षित रखने के लिए आप नीचे दिए कुछ जरूरी प्वाइंट को फॉलो कर सकते हैं।

कैसे करें चयन :

  • मखाने का चुनाव करते समय यह देख लें कि मखाना बहुत पुराना ना हो, नहीं तो उसके अंदर कीड़े होने की आशंका हो सकती है।
  • इस बात का ध्यान रखना जरूरी है वह सड़ न गया हो और उसमें नमी न आ गई हो।

मखाने को स्टोर करने का तरीका :

  • पहला यह है कि मखाने को एक एयरटाइट कंटेनर या डिब्बे में बंद करके रख दें और उसमें हवा नहीं लगनी चाहिए।
  • दूसरा यह है कि उसे नमक के साथ फ्राई करके डिब्बे में स्टोर करके रखा जा सकता है। इसे सूर्य की रोशनी और खुली हवा से दूर रखना चाहिए।

साथ ही ध्यान रहे कि इसे फ्रिज में स्टोर करके नहीं रखना चाहिए, वरना यह नरम हो जाएंगे और जल्दी खराब होने का डर रहेगा।

मखाना के नुकसान – Side Effects of Makhana in Hindi

बता दें कि मखाना के नुकसान के बारे में कोई सटीक वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है। फिर भी कुछ बिंदुओं के माध्यम से हम इससे संबंधित आम पहलुओं को जान सकते हैं।

  • मखाना में फाइबर की मात्रा होती है। ऐसे में अधिक सेवन से मखाना के नुकसान गैस और पेट में ऐंठन के रूप में दिख सकते हैं।
  • कुछ लोगों को मखाना खाने से एलर्जी हो सकती है।ऐसी स्थिति में चिकित्सक से तुरंत परामर्श लें।

अन्य भाषाओ में मखाना (Lotus Seed) :

  • makhana in kannada: ನರಿ ಕಾಯಿ (Nari kāyi)
  • makhana in telugu: ఫాక్స్ నట్ (Phāks naṭ)
  • makhana in tamil: நரி நட்டு (Nari naṭṭu)
  • makhana in marathi: लोटस बियाणे

अब तो आप जान गए होंगे कि मखाना खाने से क्या होता है। लेख में आपको मखाना के गुण, उपयोग और फायदों के बारे विस्तार से बताया जा चुका है। साथ ही आपको लेख के माध्यम से इस बात की भी जानकारी दी गई है कि इसका उपयोग किन-किन बीमारियों में लाभदायक सिद्ध हो सकता है। इसलिए, अगर आप भी मखाने को अपने नियमित आहार में शामिल करने की सोच रहे हैं, तो पहले लेख में दी गई इससे संबंधित पूरी जानकारी को अच्छे से पढ़ें। उसके बाद बताए गए तरीकों को अमल में लाएं। आशा करते हैं कि लेख में दी गई जानकारी आपकी कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को हल करने में मददगार साबित होगी।

पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने परिवार, मित्रजनो के साथ शेयर करने में संकोच न करे

phool makhana, makhana price, makhana in english, makhana khane ke fayde, makhana ke fayde, makhana side effects, roasted makhana, makhana in hindi, makhana ke fayde in hindi, makhana benefits in hindi, makhana meaning, makhana price per kg, side effects of makhana, makhana online, lotus seed, मखाना के फायदे, मखाना, मखाना खाने के फायदे, मखाना के गुण, makhana in kannada, makhana in telugu, makhana in marathi, makhana in tamil,