National Vegetable Of India

चौक गए ना? भारत की राष्ट्रीय सब्जी (National Vegetable Of India) क्या है, इसका उत्तर आप नहीं जानते होंगे, तो चलिए हम ही बता देते है National Vegetable Of India है Pumpkin जिसे हिंदी में कद्दू या कुम्हड़ा भी कहते है. अभी तक आपने इसकी सब्जी या मिठाई ही खाई होगी, लेकिन हमें पूरा यकिंन है इसके गुणों से अभी तक वाकिफ नहीं होंगे।

National Vegetable Of India कुम्हड़ा या कद्दू (Pumpkin) एक स्थलीय, द्विबीजपत्री पौधा है जिसका तना लम्बा, कमजोर व हरे रंग का होता है। तने पर छोटे-छोटे रोयें होते हैं। यह अपने आकर्षों की सहायता से बढ़ता या चढ़ता है। इसकी पत्तियां हरी, चौड़ी और वृत्ताकार होती हैं। इसका फूल पीले रंग का सवृंत, नियमित तथा अपूर्ण घंटाकार होता। नर एवं मादा पुष्प अलग-अलग होते हैं। नर एवं मादा दोनों पुष्पों में पाँच जोड़े बाह्यदल एवं पाँच जोड़े पीले रंग के दलपत्र होते हैं। नर पुष्प में तीन पुंकेसर होते हैं जिनमें दो एक जोड़ा बनाकार एवं तीसरा स्वतंत्र रहता है। मादा पुष्प में तीन संयुक्त अंडप होते हैं जिसे युक्तांडप कहते हैं। इसका फल लंबा या गोलाकार होता है। फल के अन्दर काफी बीज पाये जाते हैं। फल का वजन ४ से ८ किलोग्राम तक हो सकता है। सबसे बड़ी प्रजाति मैक्सिमा का वजन ३४ किलोग्राम से भी अधिक होता है। यह लगभग संपूर्ण विश्व में उगाया जाता है। संयुक्त राज्य अमेरिका, मेक्सिको, भारत एंव चीन इसके सबसे बड़े उत्पादक देश हैं। इस पौधे की आयु एक वर्ष होती है।

pumpkin tree images

कद्दू (National Vegetable Of India) का उपयोग सूप और सब्जी बनाने के लिए किया जाता है। अत्यधिक पौष्टिक होने के कारण, कच्चे कद्दू (Pumpkin) का जूस भी पीया जाता है। यह पेय विभिन्न स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है।

Also Read:

कद्दू (National Vegetable Of India) में कई पोषक तत्व होते हैं। यह विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स (विटामिन बी1, विटामिन बी3, विटामिन बी6, विटामिन बी5 और ​विटामिन बी9) का एक अच्छा स्रोत है। यह आयरन, तांबा, पोटेशियम, कैल्शियम और फास्फोरस जैसे खनिज से भी समृद्ध है। इसमें कई के एंटीऑक्सीडेंट्स भी होते हैं जैसे एक्सथिन, कैरोटीन और ल्यूटिन का अच्छा स्रोत है।

pumpkin flower

कद्दू (National Vegetable Of India) के फायदे

  • यदि आपकी त्वचा तैलीय है, तो आप 1 चम्मच सेब के सिरके में 1 चम्मच कद्दू (National Vegetable Of India) के पेस्ट को मिक्स करके फेस पैक तैयार कर सकते हैं। अब इसे अपने चेहरे पर लगाएं और 30 मिनट तक लगाकर छोड़ दें। इसके बाद अपने चेहरे को गुनगुने पानी के साथ धो लें और फिर ठंडे पानी से धोएं। इसके बाद, आप अपनी त्वचा के अनुसार मॉइस्चराइज़र लगा सकते हैं।
  • शुष्क त्वचा के लिए, 2 चम्मच पके हुए कद्दू (Pumpkin) की प्यूरी को आधा चम्मच शहद और ¼ चम्मच दूध को मिक्स करें। अब इसे अपने चहरे पर लगाएं और 10-15 मिनट के बाद गर्म पानी से धो लें।
  • विटामिन सी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है, और कद्दू (National Vegetable Of India) इसका एक अच्छा स्रोत है। इसमें बीटा-कैरोटीन भी पाया जाता है जो यू.वी. किरणों से होने वाले नुकसान से बचाने और त्वचा को बेहतर बनाने में मदद करता है।
  • कद्दू (National Vegetable Of India) स्किन में कोलेजन (collagen: स्किन के लिए जरूरी प्रोटीन) के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करता है, जिससे आपकी त्वचा की लोच में सुधार आता है और चेहरे पर कसाव आता है। यह त्वचा को मुक्त कणों से होने वाली क्षति से भी बचाता है जो कि झुर्रियों और त्वचा के कैंसर के कारण होता है।
  • कद्दू (National Vegetable Of India) कई तरह के विटामिन का एक अच्छा स्रोत है। विटामिन बी 3 सर्कुलेशन में सुधार करता है और इसलिए यह मुँहासे के उपचार में बहुत लाभकारी है। और इसमें मौजूद विटामिन बी 9 कोशिकाओं के नवीकरण में मदद करता है।
  • कद्दू (National Vegetable Of India) पोटेशियम और जिंक जैसे खनिज का एक समृद्ध स्रोत है। पोटेशियम बालों को स्वस्थ रखने और उनको बढ़ाने में मदद करता है। जिंक कोलेजन बनाए रखने में मदद करता है जो कि बालों को स्वस्थ रखने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  • यदि आपके बाल रूखे हो चुके हैं, तो आप कद्दू (National Vegetable Of India) का उपयोग करके एक हेयर कंडीशनर तैयार कर सकते हैं। आपको 2 कप पका हुआ कद्दू, 1 बड़ी चम्मच नारियल का तेल, 1 बड़ी चम्मच शहद और 1 बड़ी चम्मच दही को एक साथ मिक्स करना है। इसके बाद इस पेस्ट को बालों पर लगाएं। इसके बाद एक शॉवर कैप पहनें और 15 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें। इसके बाद बालों को अच्छे से धो लें।
  • कद्दू (National Vegetable Of India) एक बहुत ही कम कैलोरी वाली सब्जी होती है। 100 ग्राम कद्दू में केवल 26 कैलोरी होती है। अधिकांश आहार विशेषज्ञ वजन घटाने के लिए, कद्दू के सेवन की सलाह देते हैं।
  • कद्दू (National Vegetable Of India) के एंटीऑक्सीडेंट गुण संक्रमण से श्वसन प्रणाली की रक्षा करते हैं। यह अस्थमा के अटैक को कम करने में मदद करता है।pumpkin seed
  • कद्दू (National Vegetable Of India) का सेवन धमिनयों में प्लाक (गंदगी) को जमने से रोकने में मदद करता है जिससे हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा कम होता है। कद्दू (Pumpkin) में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा एथेरोस्क्लेरोसिस (धमनियों का सख्त होना) को भी रोकती है। यह हाई ब्लड प्रेशर के खतरे को कम करता है। यह कोलेस्ट्रोल के स्वस्थ स्तर को सामान्य रखता है।
  • कद्दू (National Vegetable Of India) में मैग्नीशियम की काफी अच्छी मात्रा पाई जाती है। और यह मांसपेशियों और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत रखने में मदद करता है। यह शरीर में सफेद रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में वृद्धि करके प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है। यह जुकाम, फ्लू और बुखार जैसे विभिन्न प्रकार के संक्रमणों से लड़ने में बहुत ही लाभकारी होता है।
  • कद्दू (National Vegetable Of India) एक बहुत ही अच्छा भोजन है जो विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। यह एक मूत्रवर्धक की तरह कार्य करता है, जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने के लिए उपयोगी है। कद्दू (Pumpkin) के औषधीय गुण पेट के अल्सर को होने से रोकने में भी मदद करते हैं।
  • शरीर में “ट्रिप्टोफैन” (tryptophan: एक तरह का एमिनो एसिड) का अभाव अक्सर अवसाद का कारण बनता है। कद्दू एल-ट्रिप्टोफैन (L-tryptophan) में परिपूर्ण होता है, यह एक एमिनो एसिड है जो अवसाद और तनाव को कम करता है। कद्दू (Pumpkin) के दिमाग को शांत रखने वाले गुण अनिद्रा के इलाज में बहुत प्रभावी होते हैं।
  • कद्दू विटामिन ए का एक बहुत ही अच्छा स्रोत है। यह विटामिन ए आँखों को स्वस्थ रखने और अच्छी दृष्टि बनाए रखने के लिए आवश्यक है। कद्दू (Pumpkin) में मौजूद ज़ियेजैंथिन (Zeaxanthin: आँखों के लिए लाभकारी प्राकृतिक तत्व) में आंखों की रेटिना को यू.वी. किरणों से बचाने के गुण होते हैं। यह बुजुर्गों में उम्र से संबंधित आँखों की बीमारियों को होने से रोकने में भी मदद है।
  • कद्दू (Pumpkin) का नियमित रूप से सेवन सूजन सम्बन्धी रोग जैसे कि रूमेटाइड आर्थराइटिस​ होने के जोखिम को कम कर देता है।
  • कद्दू (Pumpkin) में कैरोटीनॉयड और जस्ता की उच्च मात्रा पाई जाती है जो प्रोस्टेट कैंसर से रक्षा करने में मदद करती है। यह प्रोस्टेट के बढ़ने और पुरुष हार्मोन में गड़बड़ी होने को रोकता है, यह दोनों स्थिति प्रोस्टेट समस्याओं का कारण बनती है।

Also Read:

कद्दू (National Vegetable Of India) के नुकसान

  • कद्दू (Pumpkin) सीमित मात्रा में खाना सुरक्षित माना जाता है। लेकिन यह कुछ पुरुषों में शीघ्रपतन (ejaculation) की समस्या पैदा कर सकता है।
  • गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान औषधीय मात्रा में कद्दू (Pumpkin) के उपयोग के बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं है। लेकिन सुरक्षित रहने के लिए सीमित मात्रा में ही सेवन करें।

तो कैसे लगी ये जानकारी? यदि जानकारी अच्छी लगी हो तो अपने सोशल मिडिया अकॉउंट में शेयर करने में संकोच ना करे

3 thoughts on “National Vegetable Of India क्या है? जानिए फायदे और नुकसान”
  1. मीराबाई चानू: राष्ट्रपति ने खाया एक गरीब लड़की का जूठा चावल - सफलता की कहानी says:

    […] National Vegetable Of India क्या है? जानिए फायदे और नुकस… […]

  2. Gas and acidity home remedies - गैस और एसिडिटी का घरेलू इलाज - says:

    […] यह भी पढ़ें – National Vegetable Of India क्या है? जानिए फायदे और नुकस… […]

  3. Home Remedies for Dark Circles - डार्क सर्कल्स के लिए घरेलू उपचार( - says:

    […] National Vegetable Of India क्या है? जानिए फायदे और नुकस… […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *